Category Archives: Vrindavan

श्री स्वामी हरिदास संप्रदाय के चंदन के पद

श्री स्वामी हरिदास संप्रदाय के महान रसिक आचार्य  द्वारा बहुत ही सुंदर और मधुर ग्रीष्म ऋतु के पद गाए हैं। यह पद्म श्री श्यामा श्याम वृंदावन बिहारी जी के चंदन श्रृंगार का वर्णन करते हैं अक्षय तृतीया श्री बिहारी जी के चरण दर्शन होते हैं तब यह पद गाए जाते हैं।  ठाकुर श्री गोरेलाल जी...
Read more

स्वामी श्री हरिदास संप्रदाय के शयन के पद

श्री स्वामी हरिदास संप्रदाय मैं कई रसिक संतों द्वारा श्री श्यामा श्याम के शयन के पदों की रचना की है। रसिक आचार्य जैसे श्री नरहरि दास जी, श्री भगवत रसिक जी द्वारा बहुत ही सुंदर और रसपूर्ण शयन के पदों की रचना की है । ठाकुर श्री गोरेलाल जी कुंज मैं समाज श्रंखला में कई...
Read more

Jugal Naam So Nem Japata Nit Kunjbihari जुगल नाम सौं नैम जपत नित कुंज बिहारी

स्वामी श्री नाभाजी कृत पद :
रसिक चक्रचूडामणि मुख्य सखी श्री ललिता जी के अवतार अनन्य नृपति श्री स्वामी हरिदास जी महाराज के संदर्ब मैं ये पद
जुगल नाम सौं नैम जपत नित कुंज बिहारी॥
अविंलोकित रहैं केलि सखी सुख को अधिकारी॥
गान कला गंधर्व श्याम श्यामा को तोषें॥
उत्तम भोग लगाय मोर मरकट तिमि पोषें॥
नृपति द्वार ठाड़े रहें दरशन आशा जासकी॥
आशधीर उद्योत कर रसिक छाप हरिदास की॥

Anupam Madhuri Jodi Hamare Shyam Shyama Ki

Anupam Madhuri Jodi Hamare Shyam Shyama Ki

Anupam Madhuri Jodi Hamare Shyam Shyama Ki – Kirtan by Shri Ram Ji Sharma Vrindavan and Swami Haridas Rasik Bhakt Mandal Choli Madhya Pradesh .

Video taken during Pratham Patavtsav of Shri Radha Vinod Bihari Ji Temple.

This kirtan having very nice words to describe roop of shri shayma and shayam. In very beautiful way poet explaning about looks of shri shayam shayam.

A very heart touching kirtan represented in very nice way. Every one must watch and listen.

There are many such bhajan and kirtan made and sung by many rasik sants.

Kirtan , bhajan are the main part in bhakti marg. Its an easy way to get attention of shayam shyam.